घमौरी से बचने के लिए इन 100% काम आने वाले टिप्स को फॉलो करें

एक तो कड़क धूप,उपर से गर्मी ,पसीना और यह घमोरियां जो कि आपका गर्मी के मौसम में जीना हराम कर देती है । गर्मी के मौसम में काफी सामान्य बात है कि आपके शरीर पर छोटे-छोटे लाल रंग के अनेक दाने जिन्हें हम घमोरियां भी बोलते हैं।

लेकिन अब आप टेंशन फ्री हो जाइए क्योंकि आज मैं आपको ऐसे टिप्स देने वाला हूं, घमोरियां होने से कैसे रोके और अगर हो गई है तो इन्हें जड़ से कैसे खत्म करे ।

घमौरी से बचने के लिए इन 100% काम आने वाले टिप्स को फॉलो करें :–

घमौरी से बचने के लिए इन 100% काम आने वाले टिप्स को फॉलो o


दिन में 2 बार ज़रूर नहाए

घमौरी होने का सबसे बड़ा कारण पसीने का देर तक शरीर पर टिकना होता है, आप कोई पसीना निकालने वाला काम करें जैसे एक्सरसाइज, जिम, दौड़ भाग आदि करने के बाद जरूर नहाए। आप कम से कम दिन में दो बार नहाए ताकि पसीना ज्यादा समय तक शरीर पर टिक ना पाए। नहाने के बाद शरीर को अच्छी तरह से सुखाय।

हल्के,ढीले और सूती के क

 

 

ज्यादा टाइट या सिंथेटिक कपड़ा पहनने से यह पसीने को शरीर पर रोक रखता है जिसमें बैक्टीरिया के कारण घमोरियां और खुजली त्वचा पर होने लगती है। सूती और ढीले कपड़े हवा को शरीर से आर–पार जाने देते हैं जिससे पसीना कम से कम निकलता है और इसी के साथ-साथ शरीर को ठंडा रखता है और हल्का महसूस कराता हैं।

जितना हो सके शरीर को ठंडा रखें ।

गर्मी के मौसम में शरीर को ठंडा रखना बहुत आवश्यक है ।जब शरीर गर्म होता है तो पसीना अधिक मात्रा में शरीर से निकलता है जिसकी वजह से घमोरियां होने की संभावना बढ़ जाती है, ऐसी स्थिति में शरीर को अंदर से ठंडा रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीना चाहिए अर्थात अपने आप को हाइड्रेट रखना है इसके लिए आप हाइड्रेटिग फल एवं सब्जियां खाए, नींबू पानी भी एक अच्छा साधन है ।

घर में हवा आने के लिए जगह छोड़े ।

ज्यादातर लोगों के घर में गर्मी और अधिक उमस होने के कारण से भी घमोरियां निकलती है। आप अपने दरवाजे खिड़की और रोशनदान को खुला रखें ताकि उमास बाहर जा सके और ताजी हवा अंदर आ सके जिससे घमौरियों से बचाव होता है। इन सरल उपाय से आप गर्मी के मौसम में भी घमौरियों से बच सकते हैं और अपने घर को ठंडा और आरामदायक बना सकते हैं ।

शरीर को देर तक गीला ना रखें।

शरीर को देर तक गिला रखने से घमोरियां हो सकती है। नहाने के तुरंत बाद ही शरीर को अच्छे से सुखाय । कई लोग ठंडा महसूस करने के लिए गिला कपड़ा ही पहन लेते हैं, जिसमें नमी होती है और इससे घमोरियां होने लगती है। इसलिए सूखे कपड़े ही पहने अपने साथ एक रुमाल रखें ताकि पसीना आए तो पोछते रहना हैं। इन सावधानियां से आप गर्मी के मौसम में घमौरी से बच सकते हैं।

तो चलिए अब बात करते हैं अगर घमौरी होना चालू हो गई है तो इसे कैसे बचे या जड़ से कैसे खत्म करें।

घमौरी होने पर जड़ से खत्म करेंगे ये घरेलू नुस्खे।

 

मुल्तानी मिट्टी का लेप

मुल्तानी मिट्टी का पेस्ट घमौरियों को ठीक करता है

मुल्तानी मिट्टी को थोड़े पानी में मिलाए ,फिर उसका लेप बनाकर उसे शरीर के उस हिस्से में लगाए जहां घमोरियां हुई है। यह मिट्टी शरीर को काफी ठंडक देती है और घमौरी को शांत तथा खत्म कर देती है।

ऑटोमिल

ऑटोमिल ओट्स से बना एक पोषक और स्वास्थ्यवर्धक खाद्य पदार्थ होता है। इसे गुनगुने पानी में 1/2 घंटे के लिए डुबोकर रख दे, कुछ समय बाद जब पानी ठंडा हो जाएगा तो इस पानी को वहां लगाए जहां घमोरियां हो रखी है। हॉटमेल को कई और तरीके से भी इस्तेमाल किया जाता है जैसे इसे पीसकर पेस्ट बनाकर आप इसे प्रभावित जगह पर लगा सकते है।

नीम की पत्तियां

नीम की पत्तियों का पेस्ट

नीम की पत्तियों में कई प्रकार के एंटीमाइक्रोबॉयल, एंटीफंगल और एंटी इन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टी पाई जाती है। यह सभी प्रॉपर्टी शरीर पर होने वाली खुजली और इन्फेक्शन को दूर करने में काम आती है। नीम की पत्तियां को भी आप कई तरीकों से इस्तेमाल कर सकते हैं, जैसे पत्तियों का पेस्ट बनाकर प्रभावित जगह पर लगाएं । गुनगुने पानी में नीम के पत्तियों को रख दे लगभग 1 घंटे के लिए फिर इस पानी को प्रभावित ज्यादा पर अप्लाई करें। याद से बच्चों के शरीर पर नीम का इस्तेमाल न करें।

बर्फ की मदद ले

अब तक मैंने जितनी भी नुस्खे बताए हैं उसमें से बर्फ़ सबसे जल्दी असर दिखाता है आप बर्फ़ को प्रभावित जगह पर लगाए,कई दफा करने पर घमौरियां जड़ से खत्म हो जाती है ।

चंदन और गुलाब जल का पेस्ट

चंदन में भी कई प्रकार के खुजली, जलन और घमौरियों को मिटाने वाली प्रॉपर्टी पाई जाती है। चंदन को आप पानी या गुलाब जल के साथ मिलाकर पेस्ट बनाए तथा प्रभावित जगह पर लगाए ।यह घमौरियों को खत्म भी करेगा तथा आपको ठंडक भी देगा।

Leave a Comment